logo
Blog single photo

नक्सलियों को ग्रामीणों का साथ, पुलिस कैंप पर फायरिंग, फेंके पत्थर

सुकमा: छत्तीसगढ़ में नक्सलियों द्वारा पुलिस कैंप पर फायरिंग करने की खबर है। सुकमा के सिलगेर गांव में नक्सलियों ने ग्रामीणों के साथ मिलकर पुलिस कैंप जलाने की कोशिश की और सुरक्षाबलों पर पत्थर फेंके गए। ग्रामीणों के बीच छुपे नक्सलियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग की, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने भी पलटवार किया। इस फायरिंग में तीन ग्रामीणों की मौत हो गई है। हालांकि इस दौरान नक्सलियों के भी मारे जाने की खबर है।

सिलगेर के इस पुलिस कैम्प के विरोध में तीन दिन से पांच हजार ग्रामीण प्रदर्शन कर रहे हैं। दरअसल, ये इलाका नक्सलियों का है और यदि यहां पुलिस कैंप खोला गया तो नक्सलियों को बीजापुर और दंतेवाडा आने-जाने में परेशानी होगी। यही कारण है कि, नक्सली इस इलाके में पुलिस कैंप खोले जाने के बाद ग्रामीणों से प्रदर्शन करवा रहे हैं।

पुलिस कैंप पर हमले की पुष्टि आईजी ने की है। सूत्रों के मुताबिक़, पुलिस की ओर से भी इस फायरिंग का जवाब दिया गया है। सुकमा जिलेका सिलगेर इलाका नक्सल से बहुत ज्यादा प्रभावित है। यहां खुल रहे पुलिस कैम्प का विरोध करने के लिए नक्सलियों ने कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करते हुए पांच हजार से ज्यादा आदिवासियों की भीड़ जमा की। ग्रामीण पर्चे पढ़कर पुलिस के खिलाफ नारे लगाते रहे। इसी बीच नक्सलियों ने अचानक पुलिस कैंप पर फायरिंग कर दी।











Top