logo
Blog single photo

लाल किला जाने की कोशिश कर रहे किसान, रोकने के लिए जमीन पर बैठी पुलिस

नई दिल्ली: कृषि कानून के खिलाफ पिछले दो महीनों से आंदोलन कर रहे किसान आज दिल्ली की सीमाओं के आसपास ट्रैक्टर रैली निकाल रहे हैं। इस दौरान कई जगहों पर पुलिस और किसानों के बीच भिड़ंत हुई है।पुलिस की ओर से आंसू गैस के गोले छोड़े गए हैं।

किसानों का एक जत्था आईटीओ पहुंच गया है। किसानों का जत्था लालकिले की ओर से बढ़ रहा है। पुलिस की ओर से किसानों को रोकने की कोशिश की जा रही है, लेकिन किसान रूकने के लिए तैयार नहीं हैं।

किसानों के ट्रैक्टर परेड के बड़े अपडेट्स-

- गाजीपुर बॉर्डर के पास बेरीकेट्स तोड़े गए
- अक्षरधाम-नोएडा मोड के पास झड़प
- नोएडा-चिल्ला बॉर्डर पर झड़प
- कुछ जगह छिटपुट झड़प की खबरें, किसानों ने कुछ गाड़ियों में तोड़फोड़ की
- मुकरबा चौक पर भी थोड़े हालत खराब हुए
- टिकरी बॉर्डर के आगे नांगलोई में भी पुलिस बेरिकेड्स तोड़े गए
- किसानो ने 37 NOC के नियमों का उल्लंघन किया
- कई जगह बल प्रयोग कर रही है पुलिस, आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए
- ITO के पास भी किसान पहुंचे

गाजीपुर बॉर्डर से निकला किसानों का जत्था अब अक्षरधाम को पार करके दिल्ली की ओर बढ़ रहा है। आश्रम के पास दिल्ली पुलिस ने सड़क को ब्लॉक किया है, ट्रक खड़ा किया गया, JVC मशीन लगाई गई है। इस बीच गणतंत्र दिवस समारोह सुरक्षा में तैनात तमाम पुलिसकर्मियों को अलर्ट किया गया है।

 दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने पहले ही साफ भी कर दिया था कि गणतंत्र दिवस समारोह ड्यूटी में तैनात पुलिस फोर्स को भी एक्स्ट्रा डयूटी के लिए अलर्ट रहना है। सिंघु बॉर्डर से निकले किसानों का जत्था आउटर रिंग रोड पर पहुंच गया है। किसान आउटर रिंग रोड पर ट्रैक्टर मार्च निकाल रहे हैं। पुलिस ने किसानों को आउटर रिंग रोड पर मार्च निकालने की इजाजत नहीं दी थी, लेकिन आज सुबह ही किसान अड़ गए थे और बैरिकेड्स को तोड़ते हुए किसान आउटर रिंग रोड पर पहुंच गए हैं।


Top