logo
Blog single photo

पटना: इंडिगो अधिकारी को सरेआम गोलियों से भुना, SIT कर रही जांच

पटना: बिहार की राजधानी पटना में बुधवार शाम इंडिगो अधिकारी की सरीआम हुई हत्या ने कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े करदिए है। दरअसल, रूपेश कुमार पुनाईचक के कुसुम विला अपार्टमेंट में रहते थे और छपरा के बनियापुर थाना के निवासी हैं। मंगलवार देर शाम रूपेश कुमार को उनके अपार्टमेंट के सामने 6 से भी अधिक गोलियां मारी गईं। मौके से उन्हें तुरंत पारस अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था।

पुलिस ने इस हत्याकांड की जांच शुरू कर दी है और अधिकारी के कॉल रिकॉर्ड खंगाले जा रहे है।  इस मामले में पटना आईजी भी एक्टिव हो गए हैं और उनके निर्देश पर एसआईटी का गठन किया गया है। एसआईटी घटना की जांच में जुट गई है। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की भी जांच की है जिसमें पता चला है कि दो अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया है।

रूपेश कुमार की हत्या के बाद बिहार में लॉ एंड ऑर्डर पर लगातार सवाल उठ रहे हैं और राजनीति भी तेज हो गई है। तेजस्वी यादव ने इंडिगो अधिकारी की हत्या पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि सत्ता संरक्षित अपराधियों ने पटना में एयरपोर्ट मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की उनके आवास के बाहर गोलियां मार हत्या कर दी। वह मिलनसार और मददगार स्वभाव के धनी थे। उनकी असामयिक मृत्यु से बहुत दुःखी हूं। भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे. बिहार में अब अपराधी ही सरकार चला रहे है।

महाराजगंज सासंद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल ने रूपेश कुमार की हत्या पर दुख व्यक्त करते हुए कहा है कि बिहार के डीजीपी से अपराधियों के शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की है। वहीं, बीजेपी के राज्यसभा सांसद विवेक ठाकुर ने रूपेश कुमार की हत्या पर दुख जताया है।



Top