logo
Blog single photo

प्रियंका का मोदी सरकार पर हमला, नोटों की खेती के लिए बने कृषि कानून, भगवान् कृष्ण तोड़ेंगे अहंकार

लखनऊ: कृषि कानून के विरोध में चल रहे किसान आंदोलन को लेकर सियासत गर्माती जा रही है। कांग्रेस पार्टी लगातार किसानों का समर्थन कर रही है। देश के अलग-अलग हिस्सों में हो रही किसान महापंचायतों में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी हिस्सा ले रहीं हैं। मनाग्ल्वार को मतिरा के पालीखेड़ा में आयोजित किसानों की महापंचायत में भी प्रियंका गांधी पहुंची और संबोधित किया। अपने संबोधन पर प्रियंका ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

प्रियंका गांधी ने कहा कि अगर पिछली सरकारों ने कुछ बनाया ही नहीं, तो फिर आप बेच क्या रहे हैं।आपकी सरकार ने सिर्फ नोटबंदी और जीएसटी बनाया है, जिससे जनता परेशान है। प्रियंका ने ऐलान किया कि जबतक तीनों कानून वापस नहीं होंगे, तबतक किसानों की लड़ाई जारी रहेगी। हमारी सरकार आते ही इन कानूनों को रद्द कर दिया जाएगा।

प्रियंका गांधी ने कहा कि मोदी सरकार LIC के अलावा कई कंपनियां बेच रही हैं।गोवर्धन पर्वत को बचाकर रखें कल को सरकार इसे ना बेच दे। प्रियंका बोलीं कि पता नहीं पीएम मोदी को किसानों से कौन सी दुश्मनी है, पीएम मोदी संसद में भी किसानों का अपमान करते हैं। इनके मंत्री किसानों को आतंकवादी बोलते हैं, जब राहुल गांधी ने संसद में मौन रखा तो सरकार ने उसमें हिस्सा नहीं लिया।

प्रियंका गांधी ने यहां महापंचायत में कहा कि मथुरा की धरती अहंकार को तोड़ती है, भाजपा सरकार ने भी अन्नदाता के लिए अहंकार पाल लिया है। 90 दिनों से किसान दिल्ली की सीमा पर अपनी लड़ाई लड़ रहा है। 200 से अधिक किसान इस दौरान शहीद हो गए। प्रियंका बोलीं कि पीएम मोदी दुनिया के हर कोने तक पहुंचे, लेकिन दिल्ली में किसानों से नहीं मिल पाए।

प्रियंका गांधी ने कहा कि इस सरकार का विवेक मर चुका है, भगवान कृष्ण इनका भी अहंकार तोड़ेंगे।  प्रियंका गांधी ने कहा कि पीएम मोदी ने अपने लिए दो विमान खरीदे लेकिन किसानों का बकाया नहीं दिया। इससे मोदी सरकार की नीयत साफ होती है, सरकार के कार्यकाल में पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ रहे हैं। पीएम मोदी किसानों से कहते हैं कि विपक्ष किसानों को गुमराह कर रहा है, लेकिन क्या एक भी किसान से सरकार ने बात की है। ये कानून किसान नहीं बल्कि नोटों की खेती करने वालों ने बनाया है।


Top