logo
Blog single photo

बीजापुर: लापता जवान की तस्वीर सामने आने के बाद पत्रकार का खुलासा, राकेश्वर सिंह को लगी गोली

रायपुर: छत्तीसगढ़ के बीजापुर में सुरक्षाबलों के नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ के बाद से ही लापता सीआरपीएफ का कोबरा कमांडो राकेश्वर सिंह मनहास की एक तस्वीर सामने आई है। सीआरपीएफ कमांडो राकेश्वर सिंह की फोटो जारी कर नक्सलियों ने दावा किया है कि जवान सुरक्षित है। इससे पहले नक्सलियों ने कुछ स्थानीय पत्रकारों को एक पत्र जारी कर कहा था कि, लापता जवान उनके कब्जे में है।

इस बीच छत्तीसगढ़ के एक स्थानीय पत्रकार गणेश मिश्रा ने भी जवान राकेश्वर सिंह मनहास को लेकर बड़ा खुलासा किया है और बताया है कि वह नक्सलियों को कब्जे में हैं। एएनआई से बात करते हुए गणेश मिश्रा ने बताया है कि, 'मुझे नक्सलियों के दो फोन कॉल आए हैं कि एक जवान उनकी गिरफ्त में है। उन्होंने कहा कि जवान को गोली लगी और उसे मेडिकल ट्रीटमेंट दी गई है। नक्सलियों ने कहा कि जवान को 2 दिनों में रिहा कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि जवान का वीडियो और फोटो जल्द ही जारी किया जाएगा।'

गौरतलब है कि, शनिवार को बीजापुर में नक्सलियों और जवानों के बीच मुठभेड़ हुई थी। इस मुठभेड़ में 22 जवान शहीद हो गए थे और 31 जवान घायल हुए थे। इसके साथ ही 1 जवान राकेश्वर सिंह मनहास लापता हो गए थे। राकेश्वर सिंह मनहास साल 2011 में सीआरपीएफ में भर्ती हुए थे और तीन महीने पहले ही छत्तीसगढ़ में उनकी पोस्टिंग हुई थी। 7 साल पहले राकेश्वर सिंह की शादी हुई थी और एक 5 साल की बेटी है।



Top