logo
Blog single photo

नारेबाजी पर जमकर बरसी ममता, कहा - सिर कटा लूंगी लेकिन बीजेपी के आगे नहीं झुकूंगी

कोलकता: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा और टीएमसी के बीच तकरार बढ़ती जा रही है। सियासी सरगर्मियों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है। 23 जनवरी को नेता सुभाष चंद्र बोस के जयंती समारोह में 'जय श्री राम' की नारेबाजी पर ममता बनर्जी भड़क गई थीं और प्रधानमंत्री के मंच पर ही अपना गुस्सा जाहिर करते हुए उन्होंने भाषण देने से इनकार कर दिया था।

अब इस मामले पर ममता बनर्जी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। सोमवार को हुगली में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी भाजपा पर जमकर बरसीं। उन्होंने तो यहां तक कह दिया कि, मैं बीजेपी के सामने सिर झुकाने के बजाय अपना गला काटना चाहूंगी।'

गौरतलब है कि 23 जनवरी को विक्‍टोरिया मेमोरियल में नेताजी जयंती समारोह में ममता बनर्जी ने तब भाषण देने से मना कर दिया था, जब वहां भीड़ में मौजूद लोगों ने जय श्रीराम के नारे लगाए थे। इसे लेकर सोमवार को ममता बनर्जी ने कहा, 'उन लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने मेरा अपमान किया है। मैं बंदूकों में नहीं, बल्कि राजनीति में विश्‍वास रखती हूं। बीजेपी ने नेताजी और बंगाल का अपमान किया है।'

ममता बनर्जी ने कहा, 'अगर आपने नेता जी सुभाष चंद्र बोस की जय की होती तो मैं आपको सलाम करती. लेकिन अगर आप मुझे बंदूक की नोंक पर रखने की कोशिश करो तो मुझे पता है कि कैसे जवाबी हमला करना है। उस दिन दर्शकों ने बंगाल का अपमान किया था।'





Top