logo
Blog single photo

मध्यप्रदेश में मानसून की दस्तक, भोपाल-इंदौर में बारिश का येलो अलर्ट

 भोपाल: मध्यप्रदेश में दक्षिण-पश्चिम मानसून अपने समय से 7 दिन पहले पहुंच गया है। आमतौर पर मध्यप्रदेश में मानसून 17 जून को दस्तक देता है लेकिन इस बार 10 जून को पहुंच गया है। मोंस्सों की दस्तक के साथ ही मौसम विभाग के प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। पिछले 48 घंटों में भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर सहित राज्य के कई हिस्सों में बारिश हुई है।

जबलपुर और शहडोल संभाग के जिलों के लिए आईएमडी ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मानसून की उत्तर सीमा मध्यप्रदेश के बैतूल और मंडला जिलों से होकर गुजरती है। इसके साथ ही राज्य के कुछ हिस्सों में मानसून पहुंच गया। मौसम विभाग के मुताबिक मध्यप्रदेश में मॉनसून पूरी तरह से 20-25 जून तक सक्रीय हो जाएगा।

मौसम विभाग के मुताबिक जबलपुर, शहडोल, रीवा, सतना, बैतूल, हरदा, खंडवा, बुराहनपुर में भारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा भोपाल, उज्जैन, सागर, ग्वालियर, खरगौन, बड़वानी, अलीराजपुर, झाबुआ, धार, इंदौर, होशंगाबाद, सीधी, सिंगरौली में गरज के साथ बिजली गिरने का येलो अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम विभाग के मुताबिक जून के शुरुआती हफ्ते में ही पूर्वी मध्यप्रदेश के कई जिलों में औसतन बारिश से ज्यादा बारिश हो चुकी है. जबकि ग्वालियर और चंबल संभाग में सबसे कम बारिश हुई है। जबलपुर और शहडोल संभाग के जिलों में अलग-अलग स्थानों में बारिश के साथ 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चलने, बिजली गिरने के पूर्वानुमान के साथ ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।




Top