logo
Blog single photo

टूलकिट मामले में दिशा रवि को जमानत, लगा एक लाख का जुर्माना

नई दिल्ली: टूलकिट मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने दिशा रवि को जमानत दे दी है। एक दिन की रिमांड बढ़ाने के बाद जब मंगलवार को दिशा रवि को पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया, तब न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा ने दिशा की जमानत अर्जी मंजूर कर ली। धर्मेंद्र राणा ने दिशा को एक लाख रूपये के मुचलके के साथ सशर्त जमानत दे दी। कोर्ट के फैसले पर दिशा के वकीलों ने कहा कि वह ऐसे परिवार से नहीं आती जो इतनी बड़ी रकम वहन कर सके।

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने आज साइबर सेल ऑफिस में निकिता जैकब, शांतनु और दिशा रवि को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की। कल भी दिल्ली पुलिस ने निकिता जैकब और शांतनु से करीब 5 घंटे तक पूछताछ की थी। कल ही पुलिस ने दिशा रवि की रिमांड को बढ़ाने की मांग की थी। पुलिस का कहना था कि हम तीनों को एक साथ बैठाकर पूछताछ करना चाहते हैं। इस दलील को सुनने के बाद कोर्ट ने दिशा रवि की रिमांड एक दिन बढ़ा दी थी।

सोमवार को दिल्ली पुलिस ने अदालत में बताया कि दिशा रवि ने सारे आरोप शांतनु-निकिता पर डाल दिए हैं, ऐसे में वो उन तीनों को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करना चाहते हैं। दिल्ली पुलिस की ओर से अदालत को जूम मीटिंग की जानकारी दी गई, जिसका संबंध टूलकिट बनाने और आगे बढ़ाने से है।

गौरतलब है कि, पर्यावरणविद दिशा रवि को किसान आंदोलन के दौरान हिंसा भड़काने के लिए टूलकिट बनाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। दिल्ली पुलिस का दावा है कि इसके पीछे खालिस्तान से जुड़े संगठनों की साजिश थी। पुलिस ने बताया कि 17 और 18 जनवरी को भी जूम मीटिंग की गई और 23 को टूलकिट तैयार हुआ।

 
 


Top