logo
Blog single photo

मंच से कृषि कानून पर जमकर बरसे किसान नेता और फिर हो गई मौत

पंजाब: कृषि कानूनों के खिलाफ किसान का गुस्सा बरकरार है। जगह-जगह किसानों की महापंचायत और सभाएं हो रही है। इसी बीच पंजाब के अमृतसर में कीर्ति किसान यूनियन के प्रधान मास्टर दातार सिंह स्वतंत्रता सेनानी  उजागर सिंह की याद में रखे गए कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे। इस दौरान सभा को संबोधित करने के बाद उनकी मौत हो गई।

दरअसल, किसान आंदोलन को लेकर मंच से जमकर बरसे और आखिरी में कहा, अलविदा! मेरा समय ख़त्म होता है। इतना कहने के बाद जैसे ही वह कुसी पर बैठे, उन्हें हार्ट अटैक आ गया। उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया लेकिन उनकी मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि  दातार सिंह तीन दिन पहले ही दिल्ली धरने से लौटे थे और अमृतसर में एक कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। उन्हें मंच पर बुलाकर सम्मानित भी किया जाना था लेकिन उससे पहले ही यह घटना हो गई। दातार सिंह के निधन से किसान नेताओं और उनके चाहने वालों के बीच शोक की लहर दौड़ गई।

दातार सिंह कृषि कानून वापस लिए जाने को लेकर कई प्रदर्शनों में भी शामिल हुए थे। उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि मोदी सरकार कृषि कानून का समाधान तलाशने के बजाए किसान नेताओं को बांटने में जुटी हुई है। उन्होंने कहा था कि सरकार जबतक कृषि कानून वापस नहीं ले लेती है तबतक किसान अपने घर नहीं जाएंगे।


Top