logo
Blog single photo

कोरोना के साथ लौटी पाबंदियां, मध्यप्रदेश में अब नहीं आ-जा सकेंगी छत्तीसगढ़ की बसें

भोपाल: देश में कोरोना के लौटने के साथ ही पहले वाली पाबंदिया भी लौटने लगी है। मध्यप्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राज्य सरकार ने सख्ती बढ़ा दी है। पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में बढ़ते संक्रमण को लेकर सरकार सख्त हो गई है। मध्यप्रदेश सरकार ने छत्तीसगढ़ से आने-जाने वाली बसों पर रोक लगा दी है। ये पाबंदी 15 अप्रैल तक लागू रहेगी।

इससे पहले मध्यप्रदेश में महाराष्ट्र से आने-जाने वाली बसों पर पाबंदी लगा दी थी। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने 4 अप्रैल को ही एमपी से लगने वाली महाराष्ट्र बॉर्डर को सील कर दिया था। इसके बाद से वहां से आने-जाने वाली बसों पर भी रोक लगी हुई है। उसी दिन सीएम शिवराज ने चेतावनी दी थी कि अगर छत्तीसगढ़ में भी हालात बिगड़ते हैं, तो उसके साथ भी बॉर्डर सील की जा सकती है।

 अब जब मंगलवार को छत्तीसगढ़ में कोरोना के करीब 10 हजार मामले सामने आए, तो बुधवार को एमपी सरकार ने छत्तीसगढ़ बॉर्डर भी सील कर दी। फिलहाल ये पाबंदी 15 अप्रैल तक लगाई गई है। अगर हालात नहीं सुधरे, तो इसे आगे भी बढ़ाया जा सकता है।

मध्य प्रदेशः मंगलवार को यहां 3,722 नए मामले सामने आए. 18 लोगों की जान गई। अब तक मध्य प्रदेश में कोरोना के 3,13,971 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 4,073 लोगों की जान जा चुकी है। फिलहाल 24,155 मरीजों का इलाज चल रहा है।

छत्तीसगढ़: मंगलवार को यहां 9,921 नए मामले सामने आए. 53 लोगों की जान गई। अब तक राज्य में कोरोना के 3,86,269 मामले सामने आ चुके हैं और 4,416 लोगों की जान जा चुकी है। फिलहाल 52,445 मरीजों का इलाज चल रहा है।

महाराष्ट्र: मंगलवार को यहां 55,469 नए मामले सामने आए. 297 लोगों की जान गई। अब तक राज्य में कोरोना के 31,13,354 मामले सामने आ चुके हैं और 56,330 लोगों की जान जा चुकी है। फिलहाल 4,72,283 मरीजों का इलाज चल रहा है।



Top