logo
Blog single photo

शिवराज की मंत्री पर डकैती का आरोप, जांच के लिए महू जाएगी टीम

भोपाल: मध्यप्रदेश सरकार में पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर के खिलाफ सनसनीखेज आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई है। वन विभाग के एक कर्मचारी ने मंत्री ऊषा ठाकुर पर डकैती और सरकारी कार्य में बाधा डालने का आरोप लगाया है। इस मामले में वन मंत्री ने जांच के आदेश भी दे दिए है। जांच के लिए टीम आज बुधवार को महू के लिए रवाना होगी।

वहीं डकैती का आरोप लगने के बाद मंत्री ऊषा ठाकुर ने वीडियो जारी कर सफाई दी है। उन्होंने कहा कि, मंडल कार्यकर्ता सड़क निर्माण का काम करा रहा था। करीब 100 मीटर सड़क खुदी हुई थी। कई बार वन अधिकारियों को बताया लेकिन उन्होंने ध्यान नहीं दिया। पाटीदार ने सड़क का समतलीकरण करवाया। सारा घटनाक्रम वन मंत्री के संज्ञान में डाल दिया गया है।

बड़गौंदा पुलिस थाने में यह आवेदन राम सुरेश दुबे नाम के वनपाल द्वारा दिया गया है, जिसमें मंत्री उषा ठाकुर और उनके समर्थकों पर जब्त की गई जेसीबी और ट्रैक्टर-ट्रॉली ले जाने का आरोप है। दरअसल पुलिस को मिली शिकायत में महू के बड़गौंदा वन क्षेत्र में मंत्री ऊषा ठाकुर द्वारा शासकीय कार्य में बाधा डालने का आरोप लगाया गया है।

बड़गौंदा पुलिस को मिली शिकायत के अनुसार, 11 जनवरी को वनरक्षक जौहर सिंह के द्वारा सूचना दी गई कि, मंत्री ऊषा ठाकुर, मनोज पाटीदार, सुनील यादव, वीरेंद्र अंजना, अमित जोशी सुनील पाटीदार, प्रदीप पाटीदार के अलावा करीब 15 से 20 लोग वन परिसर में जबरन घुसे और जेसीबी, ट्रैक्टर-ट्रॉली अपने साथ ले गए। इस मामले में मंत्री सहित सभी लोगों पर FIR दर्ज कर जेसीबी ट्रैक्टर-ट्रॉली बरामद करने का आवेदन बड़गौंदा पुलिस को दिया है।



Top