logo
Blog single photo

बिहार चुनाव: तेजस्वी का वादा: पहला हस्ताक्षर 10 लाख नौकरी पर

पटना: बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी सरगर्मियां तेज है। इसी बीच महागठबंधन ने आज अपना वचन पत्र जारी कर दिया है। इसमें युवाओं के लिए 10 लाख नौकरियों का वादा किया गया है। घ्सोहना पत्र जारी करते हुए राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर हमला बोला है। साथ ही केंद्र को भी आड़ेहाथों लिया है।

तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में अब तक केंद्र की टीम बाढ़ की स्थिति देखने नहीं आई है, ना ही जानने की कोशिश की है कि बाढ़ से कितने लोग प्रभावित हुए हैं। ऐसा लग रहा है कि बस कुर्सी पाने की होड़ में सब लोग लगे हुए हैं। लोग बड़ी-बड़ी बातें करते हैं कि मेरा काम सेवा का है, मेवा का नहीं है। मेवा के लिए बिहार में 60 घोटाले हुए हैं।

वहीं इस दौरान कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि यदि हम तेजस्वी यादव के नेतृत्व में सरकार बनाते हैं, तो हम तीन कृषि विरोधी कानूनों को समाप्त करने के लिए पहले विधानसभा सत्र में एक विधेयक पारित करेंगे।

रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि  ये नई दशा बनाम दुर्दशा का चुनाव है, ये चुनाव नया रास्ता और नया आसमान बनाम हिन्दू-मुसलमान का चुनाव है, ये चुनाव नए तेज बनाम फेल तजुर्बे की दुहाई का चुनाव है, ये चुनाव खुद्दारी और तरक्की बनाम बंटवारा और नफरत का चुनाव है।

भाजपा पर हमला बोलते हुए सुरजेवाला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी तीन गठबंधनों में चुनाव लड़ रही है, एक गठबंधन है जेडीयू और बीजेपी का जो आपको नजर आता है, एक गठबंधन है बीजेपी और एलजेपी का जो आप समझते हैं और एक गठबंधन है बीजेपी और ओवैसी साहब का। तीन ठगबंधन के साथ बीजेपी इस बिहार के चुनाव में उतरी है।


Top