logo
Blog single photo

फिर लीजिए छप्पन के ज़ायकों का लुत्फ़, अभी सिर्फ पार्सल सुविधा भीड़ न जुटे इसलिए देंगे टोकन

4 करोड़ नुकसान हो चुका अब तक

वो करारे खोपरा पैटीज़, हरी चटनी के साथ हॉट डॉग, दही वाले उसल पोहे और सूखे मेवों से लोडेड शिकंजी...56 दुकान के इन ज़ायकों का मज़ा अब आप फिर ले सकेंगे। 1 जुलाई से यहां टेक अवे सर्विस शुरू की जा रही है। हां, परिवार के साथ वहीं खड़े होकर खाने का, कचौरी के आखिरी बाइट पर चटनी फिर डलवाने का आनंद अभी नहीं ले सकेंगे पर बारिश के इस मौसम में कुछ नए कायदों व अहतियात के साथ आप ये स्वाद घर ले जा सकेंगे। दुकानों के सामने भीड़ नहीं लगेगी। वहीं खाने की मनाही रहेगी और टोकन सिस्टम लागू किया जाएगा।
40 दुकानें देंगी टेक अवे, मेन्यू वही

56 पर फिलहाल 40 पक्की दुकानें टेक अवे सर्विस देंगी। फिलहाल खोमचे नहीं लगेंगे। यहां खाने की मनाही रहेगी और यह दुकानदार की ज़िम्मेदारी होगी कि ऐसा न हो। यदि हुआ तो सख़्त कार्रवाई की जाएगी। मेन्यू में कोई बदलाव नहीं है। पानीपूरी-दहीपूरी पार्सल नहीं की जाएगी।
आपकी सुरक्षा के लिए किए ये 3 बदलाव, गली के दोनों ओर लगाए जाएंगे थर्मल स्कैनिंग गेट


1. टोकन सिस्टम

सांसद शंकर लालवानी ने बताया - 4 दुकानें जहां हमेशा भीड़ होती है वो टोकन सिस्टम लागू करेंगे व माइक पर अनाउंस करेंगे। 56 संघ अध्यक्ष गुंजन शर्मा बोले-डेढ़ लाख की लागत से गली के दोनों ओर थर्मल स्कैनिंग गेट लगाएंगे।

30 जून को लेंगे तैयारियों का जायज़ा

2. आप रखें ये सावधानियां

{जहां तक हो सके टू व्हीलर से जाएं क्योंकि अभी कोई पार्किंग स्पेस बना नहीं है और अंदर गाड़ी ले जाना मना है।
{पार्सल की पैकिंग घर के बाहर ही निकाल कर डस्टबिन में डालें। बॉक्स सैनिटाइज़ करें। गर्म आयटम ही लाएं और उन्हें भी दोबारा पैन या माइक्रो में गर्म करें।

3. सुरक्षित दूरी की मार्किंग

हर दुकान के सामने से सड़क की ओर तीन तीन फीट की दूरी पर मार्किंग करेंगे। चूंकि अब वाहन तो अंदर लाने की अनुमति नहीं है तो सड़क तक लाइन बनाने में परेशानी नहीं आएगी।

निलाफ अवन से सब्ज़ियांसैनिटाइज़ की जाएंगी

{पूरी खाद्य सामग्री निलाफ अवन में सैनिटाइज़ की जाएंगी। {फूड हैंडलर्स, शेफ, किचन स्टाफ FSSAI ट्रेनिंग ले चुके। {कर्मचारियों का टेम्प्रेचर रोज़ चेक किया जाएगा। {शेफ, पार्सल पैक करने वाला स्टाफ हेड कवर, ग्लव्स फेस शील्ड पहनेगा
फोटो ग्राफिक में लोग दूरी रखते हुए घेरों में खड़े हैं। ऊपर स्क्रीन है जिस पर टोकन नं. है। फीमेल स्टाफ माइक पर टोकन नंबर की घोषणा कर रही है।

56 दुकान पर टेक अवे को लेकर प्रशासन, एसोसिएशन व जनप्रतिनिधियों की बैठक हुई थी। जरूरी गाइडलाइन का पालन करते हुए हुए टेक अवे की अनुमति 1 जुलाई से दे रहे हैं। 30 जून तक उन्हें सारी तैयारी करना होगी जिनका निरीक्षण किया जाएगा। - भारत भूषण सिंह तोमर, एडीएम, इंदौर


4. बैठक व्यवस्था अभी नहीं 56 दुकान पर कुछ ऐसी दुकानें भी हैं जहां बाहर कुर्सियां और स्टूल लगे हैं। अभी यह व्यवस्था नहीं रहेगी। पार्सल रेडी होने तक लाइन में खड़े होकर ही इंतज़ार करना होगा।

455 आयटम बनते हैं 56 पर

10 हज़ार लोग रोज़ आते हैं यहां

2 लाख का बिज़नेस आम दिनों में रोज़ाना

40 आउटलेट 15 खोमचे लगते हैं यहां

लॉकडाउन और उससे पहले रेनोवेशन के चलते 6 महीने से बंद छप्पन दुकान पर 1 जुलाई से टेक अवे सर्विस शुरू की जाएगी


Top